राजनीतिक दल आरटीआइ में सूचना दें: नंदिनी सहाय

RTI Seminar 20-4-14रांची, 20-04-2014
झारखंड आरटीआइ फोरम के दो दिवसीय सेमिनार का आज चैंबर भवन में समापन हुआ। सूचना का अधिकार के नौ साल तथा पारदर्शिता में नागरिक समाज की भूमिका विषय पर सेमिनार में राज्य के विभिन्न क्षेत्रों के आरटीआइ कार्यकर्ताओं के अलावा पत्रकारिता, लाॅ एवं क्षेत्रीय भाषा के विद्यार्थी शामिल हुए। झारखंड आरटीआइ फोरम के सचिव डाॅ विष्णु राजगढि़या ने विभिन्न विषयों पर आरटीआइ के आवेदन लिखने का प्रशिक्षण दिया। प्रतिभागियों ने अपनी समस्याओं एवं विकास संबंधी मामलों पर आवेदन तैयार किये।

मिक्की की निदेशक श्रीमती नंदिनी सहाय ने राजनीतिक दलों से अपनी सूचनाओं की स्वघोषणा करने की अपील की। उन्होंने कहा कि राजनीतिक दलों को संवैधानिक प्राधिकार और विभिन्न प्रकार के सरकारी संसाधन प्राप्त हैं। इसके कारण राजनीतिक दलों को भी एक लोक प्राधिकार के रूप में अपनी सूचना देनी चाहिए। श्रीमती सहाय ने कहा कि इस संबंध में केंद्रीय सूचना आयोग ने अपने आदेष में स्पष्ट भी किया है। राजनीतिक दलों को देश में पारदर्शिता और उत्तरदायित्व सुनिष्चित करने के लिए अपनी सूचनाएं नागरिकों को उपलब्ध करानी चाहिए ताकि विश्वाश का माहौल उत्पन्न हो।

एफ.इ.एस. इंडिया के सीनियर मीडिया एडवाइजर श्री राजेश्वर दयाल तथा झारखंड आरटीआइ फोरम के अध्यक्ष बलराम ने प्रतिभागियों के सवालों के जवाब दिये। यह सेमिनार नयी दिल्ली की संस्था मीडिया इनफोरमेषन एवं कम्युनिकेशन सेंटर आॅफ इंडिया तथा एफजेसीसीआइ के सहयोग से हुआ। सेमिनार के आयोजन में दीपक लोहिया, अमित झा, विक्की कुमार एवं बबला ने महत्वपूर्ण भूमिका निभायी। कार्यक्रम में विभिन्न पंचायत प्रतिनिधि भी मौजूद थे।