एटीआई में वाई-फाई के माध्यम से विडियोकोन्फ्रेंसिंग का आयोजन

atiदिनांक 29 जून 2015 को रॉची स्थित एटीआई में वाई-फाई के माध्यम से विडियोकोन्फ्रेंसिंग का आयोजन एक विशेष अवसर था। इस विडिओकॉनफ्रेनसिंग के द्वारा झारखण्ड राज्य के 40 पंचायत प्रतिनिधि गुजरात के पुंसारी पंचायत के सरपंच श्री हिमांशु पटेल से रुबरू हुऐ। यह कर्यक्रम एटीआई एवं यूनिसेफ के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित किया गया। विडिओकॉंफ्रेंसिंग के दौरान एटीआई के महानिदेशक श्री सुधीर प्रसाद, पंचायतीराज विभाग के सचिव श्री प्रवीण शंकर, पंचायतीराज विभाग के निदेशक, यूनिसेफ के श्री कुमार प्रेमचंद एवं केंद्रीय प्रशिक्षण संस्थान के श्री अजीत सिंह सहित अन्य अधिकारी , एनजीओ प्रतिनिधि व कंसलटेंट्स भी उपस्थित थे।

पुंसारी पंचायत गुजरात राज्य के साबरकांठा जिले में स्थित है। पुंसारी के सरपंच श्री हिमांशु पटेल के नेतृत्व में इस पंचायत ने विकास के नये आयाम गढे हैं और आज यह पंचायत भारत के आदर्श पंचायतों में शुमार है। विकास व नवाचार कार्यक्रमों के लिये पुंसारी पंचायत राष्ट्रीय स्तर पर भी सम्मानित हो चुका है।

श्री पटेल ने विडिओकॉंफ्रेंसिंग के माध्यम से झारखंड के पंचायत प्रतिनिधियों के सवालों का जवाब दिया,जिसमे ग्राम सभा का आयोजन, वित्तीय व्यवस्था, एवं पंचायत के क्रिया-कलापों में पारदर्शिता जैसे विषय शामिल थे। श्री पटेल ने पुंसारी में किये गये कुछ उत्कृष्ट कार्यों जैसे कि पंचायत स्तर पर सूचना-तंत्र प्रणाली का विकास, शुल्क-आधारित पेय जल की व्यवस्था एवं सीसीटीवी कैमरे द्वारा पंचायत की सुरक्षा व्यवस्था के अनुभव भी साझा किये। उन्होंने झारखंड के पंचायत प्रतिनिधियों को विस्तारपूर्वक यह भी बताया कि किस प्रकार सिर्फ सरकारी स्कीमों के तहत मिलने वाली राशि से ही पंचायत के विकास कार्यक्रमों को अंजाम दिया गया तथा पुंसारी एक विकसित पंचायत के रूप उभरा।

निःसन्देह, करीब डेढ़ घंटे तक संचालित उक्त विडिओकॉंफ्रेंसिंग के द्वारा झारखंड पंचायत प्रतिनिधियों को कुछ नया सीखने का अवसर प्राप्त हुआ।  विडिओकॉंफ्रेंसिंग के उपरांत एटीआई के महनिदेशक श्री प्रसाद ने उपस्थित सभी पंचायत प्रतिनिधियों को अपने-अपने ग्राम पंचायतों में किये गये विषेश प्रयास, नवाचार एवं सफलता के उद्धरणों को कलमबद्ध करने की सलाह दी, ताकि दूसरे पंचायतों को भी सीखने एवं कुछ नया करने की प्रेरणा मिले।